Tuesday, 17 September 2013

Hindi Poem: दिल मेरा खो जाना चाहता है...



दिल मेरा खो जाना चाहता है,
बस तेरा हो जाना चाहता है।

तेरे दिल की जमीन पर,
प्रेम-बीज बो जाना चाहता है।

क्यों आया तू कल ख्वाब में,
पागल आज रो जाना चाहता है।

तू जनता है मैं बुरा नहीं दोस्त!
फिर क्यों दूर हो जाना चाहता है।

सितारे उतर आये हैं आँखों में,
अब आसमान सो जाना चाहता है।


(Author, my tukbandi)

No comments:

Post a Comment